लाहौर में एसेंबली के पास बड़ा धमाका, डीआईजी ट्रैफिक समेत 16 की मौत

February 14, 2017, 12:46 AM

नई दिल्ली: पाकिस्तान के लाहौर में एसेंबली के पास बड़े धमाके में डीआईजी ट्रैफिक समेत 16 लोगों के मारे जाने की खबर है. धमाके में करीब 60 से ज्यादा लोग घायल बताए जा रहे हैं. घायलों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है. इनमें करीब 11 घायलों की हालत गंभीर बतायी जा रही है.

विरोध प्रदर्शन के दौरान हुआ धमाका
अस्पताल के आस-पास भी सुरक्षा कड़ी कर दी गई है. धमाका इतना जोरदार था कि आस पास की कई इमारतों के कांच टूट गए. जिस वक्त धमाका हुआ उस वक्त कई लोग विरोध प्रदर्शन के लिए वहां मौजूद थे.

11 की हालत गंभीर: स्वास्थ्य मंत्री
लाहौर के पुलिस प्रमुख अमीन वैंस ने कहा, ‘‘उप महानिरीक्षक और वरिष्ठ पुलिस अधिकारी मोबीन अहमद इस विस्फोट में मारे गए हैं.’’ बहरहाल, उन्होंने हताहत हुए दूसरे लोगों के बारे पुष्टि नहीं की है. उन्होंने कहा, ‘‘फिलहाल मैं अहमद की मौत की पुष्टि कर सकता हूं.’’ पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री ख्वाजा सलमान रफीक ने कहा कि विस्फोट में 60 से अधिक लोग घायल हो गए. घायलों में 11 की हालत गंभीर है.

जमात-ए-अहरार ने ली जिम्मेदारी
प्रतिबंधित संगठन तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान से अलग हुए समूह जमात-ए-अहरार ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है. इसी समूह ने पिछले साल 27 मार्च को लाहौर में गुलशन-ए-इकबाल पार्क में हुए विस्फोट की जिम्मेदारी ली थी. ईस्टर के दौरान हुए धमाके में 75 लोग मारे गए थे जिनमें अधिकांश ईसाई समुदाय के लोग थे.

एजेंसियों ने जांच शुरू की
लाहौर में असेंबली के निकट विस्फोट के बाद सुरक्षा बलों ने इलाके को घेर लिया. फोरेंसिक टीमें मौके पर सबूत एकत्र कर रही हैं और जांच आरंभ कर दी है. डीआईजी अहमद पर बलूचिस्तान में तैनाती के दौरान हमला हुआ था जिसमें वह बाल बाल बच गए थे.

आत्मघाती हमले का शक
लाहौर पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि ऐसा प्रतीत होता है कि यह आत्मघाती हमला था और हमलावर ने रैली स्थल पर मौजूद पुलिसकर्मियों को निशाना बनाया. पंजाब के कानून मंत्री राणा सनाउल्लाह ने इसकी पुष्टि की है कि यह आत्मघाती हमला था और इसमें ‘कुछ पुलिस अधिकारी’ मारे गए हैं. विस्फोट इतना शक्तिशाली था कि इसकी आवाज कई किलोमीटर तक सुनी गई.

नवाज शरीफ ने की हमले की निंदा
प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने इस विस्फोट की निंदा की और कहा कि आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई जारी रहेगी. शरीफ ने कहा, ‘‘हम अपने बीच के आतंकवादियों के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे हैं और इस कैंसर से अपने लोगों को मुक्त कराने तक इस लड़ाई को जारी रखेंगे.’’ सेना प्रमुख जनरल कमर बाजवा ने भी इस हमले की निंदा की है.

ABP NEWS

This entry was posted in World News, Misc News