1 फरवरी से ATMs से विदड्रॉअल की लिमिट खत्म, निकाल सकेंगे 24 हजार: RBI

January 30, 2017, 6:02 PM

नई दिल्ली.RBI ने सोमवार को कहा कि 1 फरवरी से ATMs से कैश विदड्राॅअल की लिमिट नहीं रहेगी। अब हफ्ते में एक बार में 24 हजार रुपए निकाले जा सकेंगे। बता दें कि नोटबंदी के बाद एटीएम से पैसा निकालने की लिमिट लगातार बढ़ाई गई थी। हाल ही में यह लिमिट 4500 से बढ़ाकर 10 हजार रुपए प्रतिदिन की गई थी। हालांकि, अब भी एक हफ्ते में 24 हजार से ज्यादा नहीं निकाले जा सकेंगे। सिर्फ एक दिन में, एक कार्ड से निकाले जाने वाला अमाउंट बढ़ाया गया है। आरबीआई ने बैंकों को ये सलाह भी दी है कि वो ग्राहकों को कैश से नॉन कैश मोड पर ले जाने की कोशिश करें। और क्या कहा RBI ने…
ATM से विदड्रॉअल की लिमिट कितनी बढ़ी?
पहले: एटीएम से 2000 रुपए निकाल सकते थे। बाद में, अपने बैंक के एटीएम से 2500 रुपए निकालने की इजाजत मिली। नोटबंदी के 50 दिन बाद दिसंबर अंत में यह लिमिट बढ़ाकर 4500 रुपए कर दी गई। जनवरी में इसे बढ़ाकर 10 हजार रुपए किया गया।
अब: आरबीआई के सर्कुलर के मुताबिक, इस लिमिट को खत्म कर दिया गया है। यानी 1 फरवरी से अब एटीएम से एक व्यक्ति एक कार्ड का इस्तेमाल कर एक बार में या एक हफ्ते में 24 हजार रुपए निकाल सकेगा। सर्कुलर में यह भी कहा गया है कि अब यह बैंकों पर निर्भर करता है कि वे विदड्रॉअल पर कोई लिमिट रखना चाहते हैं या नहीं।सेविंग अकाउंट से बैंक जाकर कितनी रकम निकाली जा सकती है?
पहले: बैंक के काउंटर से सेविंग्स अकाउंट्स से एक हफ्ते में 10 हजार रुपए निकालने की लिमिट थी। फिर 24 हजार की लिमिट तय की गई।
अब: सेविंग अकाउंट्स पर विदड्रॉअल लिमिट जारी रहेगी। इस पर बाद में फैसला लिया जा सकता है। इसी वजह से अभी एटीएम से आप 24 हजार रुपए से ज्यादा नहीं निकाल सकेंगे।

बाकी अकाउंट्स से विदड्रॉअल की लिमिट कितनी बढ़ी?
पहले: करंट अकाउंट से एक हफ्ते में पैसा निकालने की लिमिट 50 हजार रुपए थी। जनवरी में यह एक लाख रुपए की गई थी।
अब: करंट अकाउंट्स, कैश क्रेडिट अकाउंट्स और ओवरड्राफ्ट अकाउंट्स से पैसा निकालने की लिमिट तुरंत खत्म कर दी गई है।
नोटबंदी के बाद हुई थी दिक्कत
– बता दें कि नोटबंदी के बाद आरबीआई ने नई करंसी की कमी को देखते हुए कैश विदड्रॉअल लिमिट तय की थी। हालांकि, जैसे-जैसे नई करंसी की दिक्कत कम हो रही है, वैसे-वैसे सरकार इसमें ढील दे रही है।
bhasker

This entry was posted in Govt - Misc, Misc News